अहिर और ग्वाले

राज्य में जनसंख्या में उनके प्रतिशत कमहै उनका प्रवास उन्नीसवीं सदी में शुरू हुआ है चाहिए। उनके अनुसार वे ज्यादातर सिंगरौली से है और कुछ सरगुजा से है।