कोईर

वे सिंगरौली से 19 वीं सदी के अंतिम दशक और 20 वीं सदी के पहले दशक के दौरान आये। उनके प्रारम्भिक ज्यादातर बस्तियों पटना जमींदारी में थी